Janbol News

Bihar Lock down : कोरोना महामारी के दौरान 5 मई से लगा लॉकडाउन अभी खत्म होने के कोई आसार नजर नहीं आ रहे हैं।  हालांकि राज्य में कोरोना की रफ्तार में लगातार कमी आ रही है।  अब प्रतिदिन एक हजार के आस पास हीं  नये संक्रमित मिल रहे हैं।  रविवार की बात की जाये तो मात्र 920 नये संक्रमित मिले हैं।  अधिकतर जिलों में 50 से कम नये संक्रमितों का आंकड़ा दर्ज किया जा रहा है। एक्टिव केस भी दस हजार से कम हो चुका है।

8 जून को खत्म हो रहा लॉकडाउन 4 की सीमा

कोरोना के घटते आंकड़े हम सभी को सुकून देने वाला जरूर है। लेकिन बिहार में लॉकडाउन  (Bihar Lock down ) पूरी तरह से खत्म होने की यदि आशा कर रहे हैं तो थोड़ा और इंतजार करना पड सकता है।  बताते  चलें कि  बिहार में लॉकडाउन 4 ( Bihar Lock down)  की समय सीमा मंगलवार को समाप्त हो रही है। लेकिन  इसे फिर से एक सप्ताह के लिए बढ़ाये जाने की संभावना है। हालांकि इस बार भी छूट का दायरा  बढ़ सकता है। दुकानें अब ज्यादा देर तक खुल सकती हैं।  निजी कार्यालय भी कुछ पाबंदियों के साथ खोले जाने की इजाजत मिल सकती हैं।   सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में होने वाली आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में इससे संबंधित अंतिम निर्णय लिया जायेगा। इससे पहले मुख्य सचिव, गृह विभाग के अवर मुख्य सचिव समेत अन्य आला अधिकारियों के स्तर पर इसे लेकर आंतरिक रूप से मंथन किया गया, जिसमें लॉकडाउन की मौजूदा स्थिति को लेकर समीक्षा की गयी। संभावना है कि इस बार भी लॉकडाउन पूरी तरह से नहीं हटाया जायेगा।

क्या-क्या है संभावित छूट की संभावना ?

बिहार में लॉक डाउन ( Bihar Lock down ) 5 की समय सीमा क्या होगी  यह तो  आपदा समूह के साथ मुख्यमंत्री की बैठक के बाद हीं स्पष्ट हो पायेगा। लेकिन संभावना जताई जा रही है कि इसमें प्रमुख रूप से तीन-चार और छूट दी जा सकती है। इसमें दुकानों को खोलने के लिए समय सीमा बढ़ा कर शाम छह या आठ बजे तक किया जा सकता है। इसके अलावा एक बार फिर से नाइट कर्फ्यू लगाने का प्रावधान किया जा सकता है । वहीं सरकारी कार्यालयों में कर्मचारियों की सीमा बढ़ायी जा सकती है। इसके अलावा  प्राइवेट कार्यालयों को 25 फीसदी उपस्थिति के साथ खोलने का आदेश जारी किया जा सकता है। हालांकि, पार्क, जिम, सिनेमा हॉल आदि खोलने पर अभी विचार होने की गुंजाइश कम रहेगी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इसके लिए सीएम नीतीश कुमार ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों से कोरोना की स्थिति को लेकर फीडबैक लिया है। डीएम की रिपोर्ट के आधार पर ही अनलॉक करने की रणनीति बनायी जायेगी।

0Shares

Leave a Reply