इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) प्रतियोगिता की मेजबानी की लिए उन्होंने कोई पेशकश नहीं की है। कहा जा रहा था कि भारत में होने वाला आइपीएल इस बार न्यूजीलैंड में हो सकता है। कीवी क्रिकेट बोर्ड के प्रवक्ता ने ये स्पष्ट कर दिया है कि कोरोना वायरस से मुक्त हो चुके न्यूजीलैंड में आइपीएल की मेजबानी के लिए हमने कोई ऑफर बीसीसीआइ को नहीं दिया है। बीसीसीआइ अधिकारी के हवाले से कहा था कि संयुक्त अरब अमेरीका  और श्रीलंका के बाद न्यूजीलैंड सबसे नया देश है, जिसने COVID-19 के कारण भारत में अरबों डॉलर की लीग आयोजित नहीं होने की स्थिति में इस प्रतियोगिता का आयोजन करने की बात की है। यह प्रतियोगिता MARCH में शुरू होने वाली थी, लेकिन कोरोना के कारण अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई है।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड की पहली पसंद घर पर टूर्नामेंट का आयोजन करने पर है, लेकिन भारत कोरोना वायरस के मामलों में तीसरा सबसे बड़ा देश बन गया है। अधिकारी ने कहा था, “भारत में कार्यक्रम का आयोजन कराना पहली पसंद है, लेकिन अगर यह सुरक्षित नहीं है, तो हम विदेशी विकल्पों पर ध्यान देंगे। यूएई और श्रीलंका के बाद, न्यूजीलैंड ने भी IPL

की मेजबानी करने की पेशकश की है।”बीसीसीआइ के इसी झूठ का पर्दाफाश न्यूजीलैंड क्रिकेट के प्रवक्ता रिचर्ड बूक ने रेडियो न्यूजीलैंड (RNZ) से बात करते हुए कहा है, “रिपोर्ट(न्यूजीलैंड में आइपीएल की मेजबानी) केवल अटकलें हैं। हमने आइपीएल की मेजबानी की पेशकश नहीं की है