july 2021 festivals

Janbol News

July 2021 Festivals : भारत धार्मिक विविधता से भरा देश है। यहाँ हर रोज कोई न कोई त्यौहार आते हीं हैं। कुछ पर्व ज्यादा प्रचलित होते हैं तो कुछ कम। हालांकि जुलाई का महीना अभी प्रारंभ हीं अभी हुआ है फिर भी हम सबको जानना चाहिए कि इस महीने में कौन-कौन से पर्व त्यौहार आने वाले हैं। इस लेख में हम चर्चा करने जा रहे हैं इस महीने में आने वाले पर्वों की। जुलाई महीने की बात की जाये तो यह हिन्दी मास के अनुसार आषाढ़ का महीना है। 25 जुलाई से यह महीना सावन को भी अपने साथ समायोजित करेगा। इस महीने में मुख्य रूप से योगिनी एकादशी, प्रदोष व्रत, देवश्यानी एकादशी, बकरीद और गुरूपूर्णिमा का त्यौहार आने वाला हैं। आइए हम एक- एक करके इस महीने में मनाये जाने वाले महत्वपूर्ण पर्वों के महत्व की चर्चा करते हैं।

योगिनी एकादशी ( 5 जुलाई)

जुलाई 2021 के त्यौहारों ( July 2021 Festivals ) में पहले नंबर पर योगिनी एकादशी का नंबर आता है। योगिनी एकादशी 5 जुलाई को मनाया जाना है। आषाढ़ महीने की कृष्ण पक्ष की एकादशी को योगिनी एकादशी कहा जाता है। ऐसी मान्यता है कि इस व्रत को करने से लोगों को पाप से मुक्ति मिल जाती है।

प्रदोष व्रत ( 7 जुलाई )

योगिनी एकादशी के बाद जुलाई महीने 2021 के त्यौहारों ( July 2021 Festivals ) की बात की जाये तो दूसरे नंबर पर प्रदोष व्रत है। प्रदोष व्रत जुलाई महीने की सात तारीख को मानया जाना है। यह व्रत भगवान शिव की आराधना के लिए जाना जाता है ।  हर महीने की त्रयोदशी को प्रदोष व्रत रखा जाता है।  माना जाता है कि जो लोग इस व्रत को रखते हैं उन्हें संतान की प्राप्ति होती है और घर में खुशियां आती हैं।

देवशयनी एकादशी (20 जुलाई)  

आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को देवशयनी एकादशी कहा जाता है।  विष्णु पुराण में इस एकादशी का काफी महत्व माना गया है। मान्यता है कि इस एकादशी का व्रत करने वाले लोगों को मोक्ष की प्राप्ति होती है।

बकरीद (21 जुलाई)

जुलाई के महीने में मुस्लिमों का त्यौहार बकरीद भी मनाया जाएगा।  पूरे देश में इस त्यौहार को हर साल धूमधाम से मनाया जाता है । करोड़ों लोग इस दिन नमाज अदा कर देश की सलामती की दुआ करते हैं।

गुरु पूर्णिमा (23 जुलाई)

आषाढ़ मास की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा का त्योहार मनाया जाता है।  इस दिन गुरु की पूजा करने का चलन लंबे समय से चला आ रहा है।  महाभारत के रचयिता वेदव्यास का जन्म दिन भी इसी दिन है।  इसलिए यह दिन खास माना जाता है।

सावन माह प्रारंभ ( 25 जुलाई )

25 जुलाई से सावन माह की शुरूआत हो रही है। यह माह पूरी तरह से भगवान शंकर की आराधना से जुड़ा होता है। इस माह में श्रद्धालु, भगवान शिव की जटा से निकलने वाली  जीवनदायिनी गंगा का पवित्र जल जगह- जगह शिवलिंगों पर चढ़ाते हैं।

0Shares

Leave a Reply