जनबोल न्यूज

साबिक़ डिप्टी मेयर जनाब ज़ेयाउल्लाह खां कल सुबह लंबी बीमार के बाद देहांत हो गया . जियाउल्लाह खां ने लंबे समय से राजद पार्टी से जुड़े थे और राजद में रहते हुए वे इस दुनियां से चल बसे. वो कैंसर से पीड़ित थे लंबी बीमारी के बाद उनका निधन हो गया .उनके जनाज़े की नमाज़ यतीम खाना फील्ड में पढ़ाई गई और तदफ़ीन का एहतेमाम जिन्नाती मस्जिद के क़ब्रिस्तान में किया गया.

जियाउल्लाह खां ने अपने राजनैतिक कैरियर की शुरूआत कांग्रेस से शुरू की थी. बाद में उन्होंने राजद ज्वाइन कर लिया . जियाउल्लाह खां की राजनीतिक विचारधारा चाहे जो भी रही हो, लेकिन वे अक्सर जमीन से जुड़े रहे, हमेशा लोगों के हितों के बारे में सोचते थे.

लोग बताते हैं कि ख़ान साहब के परिवार में हीं समाजसेवा भरा हुआ है। कोरोना संकट और लॉकडाउन में भी उन्होंने लोगों की खूब मदद की।वे नगर निगम के तीन बार वार्ड पार्षद और एक बार उप महापौर की कुर्सी पर रहे।

समाजवादी नेता और राजद के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष सीताराम अकेला के निधन पर पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती राबडी देवी, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव, प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द सिंह, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामचन्द्र पूर्वे, प्रदेश उपाध्यक्ष डाॅ तनवीर हसन, प्रदेश प्रवक्ता चित्तरंजन गगन, प्रदेश महासचिव संजय यादव, मदन शर्मा, महेन्द्र विद्यार्थी, डाॅ प्रेम कुमार गुप्ता, निर्भय अम्बेडकर एवं निराला यादव ने शोक व्यक्त किया है ।

राजद नेताओं ने कहा कि जन नायक कर्पूरी ठाकुर जी के सानिध्य में  समाजवादी आन्दोलन से जुड़े  श्री अकेला आजीवन समाज के अन्तिम पायदान के लोगों की आवाज उठाते रहे। शोषण मुक्ति सेना नामक संगठन के माध्यम से पिछडों, अति पिछड़ों, दलितों और समाज के कमजोर वर्ग के नौजवानों को उनके अधिकारों की लडाई लड़ते रहे। युवा लोकदल और जनता दल से लेकर राजद तक वे लगातार संगठन में महत्वपूर्ण जिम्मेवारीयों का निर्वहन करते रहे।

पिछले दिन पटना स्थित आवास पर हृदयाघात से उनका निधन हो गया । उनके असामयिक निधन से राजद परिवार काफी मर्माहत है। और उनके प्रति शोक प्रकट करती है ।

जनबोल न्यूज

राष्ट्रीय जनता दल ने पार्टी के पूर्व मंत्री विद्यासागर निषाद के असामयिक निधन पर गहरा शोक प्रकट किया है। आज उनका पार्थिव शरीर पार्टी कार्यालय लाया गया जहां नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव एवं प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने उनके पार्थिव शरीर पर पार्टी का झंडा ओढाया तथा पुष्पचक्र चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की।

इस अवसर पर उनके पार्थिव शरीर पर फूलमाला चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों में प्रदेष उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री वृषिण पटेल, प्रदेष प्रधान महासचिव आलोक कुमार मेहता, प्रदेष कार्यालय सचिव चन्देश्वर प्रसाद सिंह, मदन शर्मा, निराला यादव, डाॅ0 पे्रम कुमार गुप्ता, निर्भय अम्बेदकर सहित दर्जनों कार्यकर्ताओं ने विद्यासागर निषाद के पार्थिव शरीर पर फुलमाला चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की।

विद्यसागर निषाद अमर रहें-अमर रहें का नारा लगाकर नम आंखों से उन्हें अन्तिम विदाई दी गयी। आज उनका निधन का समाचार मिलते हीं उनके सम्मान में पार्टी का झंडा आधा झूका दिया गया। आज उनका पार्थिव शरीर पार्टी कार्यालय पटना से खगड़िया उनके पैतृक गांव के लिए रवाना हो गया। उनका दाह संस्कार कल यानि 15 जुलाई को अपराह्न 02ः00 बजे दिन में खगड़िया जिला के पवित्र गंगा नदी के किनारे गोगरी घाट पर पूर्ण राजकीय सम्मान के साथ किया जायेगा।