Home

टॉप स्टोरी

किसानो के जमीन को जबरन अधिग्रहण करने के खिलाफ, किसानों के समर्थन में पहुंचे थे।-आशुतोष कुमार

जनबोल न्यूज

आशुतोष कुमार ने कहा कि राज्य की तथाकथित सुशासन की सरकार सुशासन के नाम पर किसानों के सर फोड़कर सरासर अन्याय कर रही हैं। आशुतोष कुमार ने कहा कि किसान 2011 तक इस जमीन का लगान भरते आए हैं।

किसान  इस जमीन पर किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत लोन भी उठा चुके हैं। इस क्षेत्र में किसान तीन फसल की उपज कर रहे हैं अगर सरकार अधिग्रहण करती है तो किसान परिवारों के जीवन यापन पर बड़ा संकट सामने आ जाएगा।
आशुतोष कुमार ने कहा कि यह दिनकर की भूमि है। जो अन्याय के खिलाफ कभी चुप नहीं बैठे।

दिनकर जी के पदचिन्हों पर हम चलकर किसानों के लिए सड़क, सदन से न्यायालय तक की लड़ाई हम किसानों के हित में लड़ेंगे।
मौके पर मौजूद सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता मृणाल माधव ने कहा कि गैर न्यायिक तरीके से किसानों की जमीन को यहां सरकार अधिग्रहण कर रही है। किसानों की इस लड़ाई को हमलोग राष्ट्रीय जन जन पार्टी के साथ कानुनी तरीके से लड़ेंगे।
कई एकड़ बंजर जमीन को छोड़कर उपजाऊ जमीन पर कब्जा किया जा रहा है, ग्रामीण इलाके से सटे होने के कारण प्रदूषण से बीमारी का खतरा भी ग्रामीण में बना हुआ है।
घटनास्थल पर मुआवजा के बाद आशुतोष कुमार रामदिरी के विभिन्न ग्रामीणों और पीड़ित किसानों के दरवाजों पर जाकर उनका हालचाल जाना।
किसानों पर लाठीचार्ज से आहत आशुतोष कुमार ने कहा कि लॉक डाउन के बाद सरकार को पीड़ित किसानों के मानसिक शारीरिक और आर्थिक मुआवजा किसानों को दें। अन्यथा हम आंदोलन करेगे।
मौके पर राष्ट्रीय जन जन पार्टी के शिवम सौरभ, अजय सिंह, गोपाल कुमार, अंचल गौतम, मुरारी वत्स, किशन कुमार, आशीष कुमार सहित दिनेश सिंह, मनोज सिंह सहित सैकड़ों किसान उपस्थित थे।

Janbol News Share !
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share